ये घरेलू नुस्खे एसिडिटी की समस्या को तुरंत दूर करेंगे, कोशिश करने पर राहत मिलेगी

0

आजकल की जीवनशैली में व्यक्ति अक्सर पेट की समस्याओं से पीड़ित रहता है। विशेष रूप से, अम्लता का अर्थ है पेट की जलन आमतौर पर होती है। यह अम्लता की समस्या कई कारणों से हो सकती है जैसे कि मसालेदार भोजन, पाचन समस्याएं आदि। इस समस्या के कारण व्यक्ति खुद को स्थिर नहीं रख पाता है और परेशान होता रहता है। तो इसी कड़ी में आज हम आपके लिए कुछ घरेलू उपाय लेकर आए हैं, जिन्हें आजमाने से एसिडिटी की समस्या में राहत मिलेगी।

जीरा और अजवाइन प्रभावी हैं

अजवाइन गर्म है लेकिन जीरा समृद्ध है। अर्थात्, शरीर और रोग की प्रकृति को देखते हुए प्रतिक्रियाशील भोजन। पेट में अम्लता या जलन के बाद, एक चम्मच जीरा और अजवाइन लें और उन्हें तवे पर भून लें। जब दोनों ठंडे हो जाएं, तो इसकी आधी मात्रा लें और इसे चीनी के साथ खाएं। अगले मिश्रण के बाद तैयार मिश्रण का आधा हिस्सा लें। आपको एकल खुराक में एसिडिटी से राहत मिलेगी। लेकिन अगले भोजन को ठीक से पचाने के लिए, शेष मिश्रण का उसी तरह से सेवन करें।

गुड़ खाएं

जब आपके पेट में गर्मी हो तो गुड़ खाएं, गुड़ खाने के बाद आपको राहत महसूस होगी। गुड़ खाने के बाद एक गिलास ताजा पानी पिएं। ध्यान रखें कि गुड़ खाने के बाद अगर आप एक सामान्य गिलास से कम पानी पीते हैं, तो खांसी हो सकती है। इसलिए गुड़ खाएं और एक गिलास पानी पिएं। पेट तुरंत ठंडा हो जाएगा और एसिडिटी चली जाएगी।

करौंदा

भुना जीरा और अजवाइन चीनी के साथ खाने के बाद यदि आवश्यक हो तो आप ताजा पानी पी सकते हैं। लेकिन 10 मिनट बाद ही ताजा पानी पिएं। यदि आप तुरंत पानी पीना चाहते हैं, तो केवल एक घूंट गुनगुना पानी पी सकते हैं। आपको फायदा होगा अगर घर पर आंवला है तो आप काले नमक को मिलाकर आंवले का सेवन कर सकते हैं। आपको तत्काल राहत मिलेगी। अगर आंवला नहीं है और आंवला कैंडी है, तो आप इसका भी सेवन कर सकते हैं। इस तरह आपको 2 से 3 मिनट के भीतर आराम मिल जाएगा।

ठंडा दूध

दूध के कई फायदे हैं। इसके सेवन से न केवल पोषक तत्व मिलते हैं, बल्कि यह कई प्रकार की समस्याओं में भी राहत देता है। उदाहरण के लिए, यदि आपको एसिडिटी है, तो एक गिलास ठंडा दूध बिना चीनी मिलाए पीएं। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी।

Leave a Reply