Connect with us

Technology

Fact Check: 5G नेटवर्क की टेस्टिंग से हो रही लोगों की मौत और इसे दिया जा रहा COVID-19 का नाम? PIB से जानें वायरल ऑडियो में किए जा रहे दावे की सच्चाई

Published

on

Fact Check: 5G नेटवर्क की टेस्टिंग से हो रही लोगों की मौत और इसे दिया जा रहा COVID-19 का नाम? PIB से जानें वायरल ऑडियो में किए जा रहे दावे की सच्चाई

फैक्ट चेक (Photo Credits: PIB Fact Check)

Fact Check: भारत इस समय कोरोना महामारी (Corona Pandemic) की दूसरी लहर की मार गंभीर रूप से झेल रहा है. एक तरफ तो देश में कोविड-19 (COVID-19) के रोज लाखों नए मामले और हजारों मौतें की खबरें सामने आ रही हैं और दूसरी तरफ सोशल मीडिया (Social Media) पर फेक खबरों (Fake News) की बाढ़ आ गई है. इस तरह के फेक मैसेज (Fake Message) न केवल गलत जानकारियों का प्रसार करते हैं बल्कि लोगों के बीच पैनिक (Panic) या एक तरह का डर का माहौल पैदा करते हैं. ऐसा ही एक फेक ऑडियो मैसेज (Fake Audio Message) इंटरनेट पर वायरल (Viral) हो रहा है. इस फेक वायरल ऑडियो मैसेज (Viral Audio Message) में दावा किया जा रहा है कि राज्यों में 5जी नेटवर्क की टेस्टिंग (5G Network Testing) की जा रही है जिस कारण लोगों की मृत्यु हो रही है व इसे कोविड-19 का नाम दिया जा रहा है. यह भी पढ़ें- Fact Check: टाटा हेल्थ के नाम पर ‘COVID-19 Three Stages’ इलाज का व्हाट्सएप मैसेज इस साल फिर आया सामने, जानें इस वायरल मैसेज की सच्चाई.

इस बीच, पीआईबी फैक्ट चेक (PIB Fact Check) ने इस दावे की पड़ताल करते हुए इसे फेक और निराधार बताया है. पीआईबी फैक्ट चेक ने कहा है कि ऑडियो में किया गया दावा फेक है, कृपया ऐसे फर्जी संदेश साझा कर के भ्रम न फैलाएं.

पीआईबी फैक्ट चेक का ट्वीट-

लेटेस्टली मीडिया आपसे अनुरोध करता है कि ऐसे वायरल मैसेज पर भरोसा न करें. इसके साथ ही जब तक इस तरह की खबरों की सत्यता जान न लें तब तक किसी को ऐसे मैसेज न भेजें. कोरोना संकट की इस घड़ी में सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली किसी भी जानकारी या खबर को फॉरवर्ड या शेयर करने से पहले एक जिम्मेदार नागरिक की तरह उसकी प्रामाणिकता की जांच जरूर कर लें.

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *