Connect with us

Sports

सीएसके ने 4 विकेट से रोमांचक जीत के साथ सीजन-14 के फाइनल में बनाई जगह – News India Live, India News, Live News India

Published

on

ओपनर बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ (70 रन) और रोबिन उथप्पा (63 रन) के अर्धशतकों के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के अंत में छह गेंद में नाबाद 18 रन से चेन्नई सुपर किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के पहले क्वालीफायर में दिल्ली कैपिटल्स को चार विकेट से हराकर 15 अक्टूबर को होने वाले फाइनल में प्रवेश किया।

यह चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) का नौंवा आईपीएल फाइनल होगा। दिल्ली कैपिटल्स को अब बुधवार को दूसरे क्वालीफायर के जरिये फाइनल में पहुंचने का एक और मौका मिलेगा जिसमें उसका सामना रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स के बीच सोमवार को होने वाले एलिमिनेटर के विजेता से होगा।

सलामी बल्लेबाज पृथ्वी साव (60 रन) और कप्तान ऋषभ पंत (नाबाद 51 रन) के अर्धशतक की बदौलत दिल्ली कैपिटल्स बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद पांच विकेट पर 172 रन का स्कोर बनाने में सफल रही। आईपीएल की अनुभवी चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को फार्म में चल रहे गायकवाड़ (50 गेंद, पांच चौके और दो छक्के) और उथप्पा (63 रन, 44 गेंद में सात चौके, दो छक्के) ने दूसरे विकेट के लिये 77 गेंद में 110 रन की साझेदारी कर अच्छी शुरूआत करायी।

वहीं अंत में कप्तान धोनी ने फिर अपनी ‘फिनिशर’ की भूमिका निभाते हुए छह गेंद में तीन चौके और एक छक्के से नाबाद 18 रन बनाकर दो गेंद रहते चार विकेट से जीत दिलायी। दिल्ली कैपिटल्स ने पिछले मैच से सबक लेते हुए इस मुकाबले में शानदार क्षेत्ररक्षण किया। पर धोनी का अनुभव युवा पंत पर भारी पड़ा। दिल्ली ने सीएसके को हालांकि पहले ही ओवर में पहला झटका फाफ डु प्लेसिस के रूप में दे दिया था जिन्हें एनरिच नोर्किया ने (31 रन देकर एक विकेट) बोल्ड किया। पर इसके बाद गायकवाड़ और उथप्पा टीम को आसानी से लक्ष्य की ओर आगे बढ़ा रहे थे।

Advertisement

छठे ओवर में आवेश खान पर दो छक्के और दो छक्के से सीएसके ने 20 रन जोड़कर स्कोर छह ओवर में एक विकेट पर 59 रन तक पहुंचा दिया। उथप्पा ने 35 गेंद में पांच चौके और दो छक्के से आईपीएल में अपना 25वां अर्धशतक पूरा किया और साथ ही 10वें ओवर के समाप्त होने तक सीएसके का स्कोर एक विकेट पर 81 रन हो गया। टॉम कुरेन (3.

4 ओवर में 29 रन देकर तीन विकेट) ने 14वें ओवर में सीएसके के दो विकेट झटके। पहले उन्होंने उथप्पा को आउट कर दूसरे विकेट की शतकीय साझेदारी का अंत किया। गायकवाड़ ने अगली दो गेंद पर तीन रन जोड़कर अपना अर्धशतक पूरा किया। श्रेयस अय्यर ने बाउंड्री लाइन उथप्पा का शानदार कैच लपका और इसी ओवर की अंतिम गेंद पर उन्होंने बल्लेबाजी क्रम में ऊपर आये शारदुल ठाकुर (शून्य) को आउट किया और यह कैच भी अय्यर ने ही लपका।

अगले ओवर में अय्यर और कागिसो रबाडा ने अंबाती रायुडू को रन आउट कर सीएसके का स्कोर चार विकेट पर 119 रन कर दिया। गायकवाड़ और मोईन अली (16 रन) ने फिर कुछ शॉट लगाकर सीएसके पर से दबाव कम किया। जिससे सीएसके को अंतिम दो ओवर में जीत के लिये 24 रन की जरूरत थी। आवेश खान ने फुलटॉस गेंद पर गायकवाड़ को कैच आउट कराया, अक्षर पटेल ने शानदार कैच लपका। अब सीएसके के कप्तान धोनी क्रीज पर थे। 19वें ओवर में धोनी के छक्के और मोईन अली के चौके से 11 रन जुड़े। अब छह गेंद में 13 रन चाहिए थे।

अंतिम ओवर की पहली गेंद पर टॉम कुरेन ने मोईन अली (12 गेंद में दो चौके) को आउट किया। दूसरी और तीसरी गेंद पर धोनी ने चौके लगाये। अगली गेंद वाइड, फिर धोनी का चौका और सीएसके फाइनल में। इससे पहले साव (34 गेंद, सात चौके, तीन छक्के) को छोड़कर दिल्ली कैपिटल्स के शीर्ष क्रम के बल्लेबाज खराब शॉट खेलकर जल्दी आउट हो गये, पर पंत (35 गेंद, तीन चौके और दो छक्के) और शिमरोन हेटमायर (24 गेंद में 37 रन, तीन चौके, एक छक्का) ने पांचवें विकेट के लिये 50 गेंद में 83 रन की साझेदारी कर टीम को इस स्कोर तक पहुंचाने में अहम भूमिका अदा की।

सीएसके के लिये जोश हेजलवुड ने 29 देकर दिल्ली को पॉवरप्ले में शुरूआती दो विकेट झटके दिये जबकि आल राउंडर रविंद्र जडेजा ने साव का महत्वपूर्ण विकेट हासिल किया। मोईन अली ने 27 रन देकर एक विकेट प्राप्त किया। ड्वेन ब्रावो ने तीन ओवर में 31 रन देकर एक विकेट झटका। साव ने पारी का पहला छक्का हेजलवुड पर दूसरे ओवर की अंतिम गेंद पर लगाया। अगले ओवर में साव ने दीपक चाहर (तीन ओवर में 26 रन) पर चार चौके जमाये और 17 रन जुटाकर टीम को अच्छी शुरूआत करायी। धवन (07) ने भी हाथ खोलने शुरू किये और चौथे ओवर की पहली गेंद पर चौका जमाया, पर हेजलवुड की अगली गेंद उनके बल्ले का किनारा छूती हुई सीधे विकेटकीपर धोनी के हाथों में चली गयी और श्रेयस अय्यर क्रीज पर उतरे जिससे अगली चार गेंद पर कोई रन नहीं जुड़ा।

Advertisement

साव ने शार्दुल ठाकुर (तीन ओवर में 36 रन) का स्वागत डीप मिड विकेट पर छक्का लगाकर किया, उन्होंने इस ओवर की पांचवीं गेंद को भी लांग ऑन पर छक्के के लिये भेज दिया जिससे टीम ने रनों का अर्धशतक पूरा किया। साव भाग्यशाली रहे कि अगली धीमी गेंद उनके बल्ले को छूकर धोनी के दस्तानों को छू कर निकल गयी थी और वह बाल बाल बच गये। अय्यर ने आठ गेंद खेलकर एक रन ही जोड़ा था कि हेजलवुड पर बड़ा शॉट खेलने के प्रयास में रूतुराज गायकवाड़ को कैच दे बैठे जिससे पॉवरप्ले में टीम ने दो विकेट पर 52 रन बनाये। दिल्ली ने अक्षर पटेल को चौथे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये भेजकर हैरान कर दिया। साव ने जडेजा पर चौका लगाकर 27 गेंद में छह चौके और तीन छक्के से अर्धशतक पूरा किया जो यूएई के चरण में दिल्ली कैपिटल्स की ओर से पहला पचासा भी था।

धोनी का मोईन अली को गेंदबाजी पर लगाने का फैसला फायदेमंद साबित हुआ जिन्होंने अक्षर पटेल की बड़ा शॉट लगाने की कोशिश को नाकाम कर उन्हें पवेलियन का रास्ता दिखाया। दिल्ली कैपिटल्स 10 ओवर में तीन विकेट खोकर 79 रन बना चुकी थी। पर अगले ओवर में टीम ने साव का अहम विकेट गंवा दिया। जडेजा ने दिल्ली कैपिटल्स को सबसे बड़ा झटका दिया जिनकी गेंद पर शॉट लगाने की कोशिश में साव की पारी समाप्त हुई और यह कैच लांग आफ में फाफ डु प्लेसिस ने लपका। दिल्ली की टीम दबाव में थी जिससे अब जिम्मेदारी पंत और हेटमायर के कंधों पर थी।

यह भी पढ़ें- IPL 2021 : लारा की भविष्यवाणी, बताया दिल्ली और चेन्नई में से किसे मिलेगी जीत

दोनों सतर्कता से खेल रहे थे, साव के आउट होने के बाद 28 गेंद बाद पहली बाउंड्री लगी। मोईन अली के चौथे ओवर में हेटमायर ने पुल शॉट से डीप मिडविकेट पर छक्का जमाया। हेटमायर ने हाथ खोलते हुए ब्रावो के पहले ओवर में शार्ट थर्ड मैन पर एक चौका और जमाया।

दूसरे छोर पर पंत ने भी संयमित होकर खेलते हुए 16वें ओवर में ठाकुर की गेंद पर अपनी पारी का पहला छक्का जड़ा। दोनों ने शानदार साझेदारी निभाकर टीम को सम्मानजनक स्कोर की अग्रसर किया। पर 19वें ओवर में कैरेबियाई आल राउंडर ब्रावो ने हमवतन हेटमायर की 37 रन की पारी समाप्त की। पंत ने अंतिम गेंद में दो रन लेकर अपना अर्धशतक पूरा किया।

Advertisement