Connect with us

Sports

Cricket History: क्रिकेट के इन रिकॉर्ड को तोड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है

Published

on

Cricket History: क्रिकेट के इन रिकॉर्ड को तोड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है

प्रतीकात्मक तस्वीर (Photo Credits: Pexels)

मुंबई: क्रिकेट (Cricket) में अक्सर कहा जाता है कि यहां रिकॉर्ड टूटने के लिए ही बनते हैं. कोई भी बल्लेबाज या गेंदबाज कोई नहीं रिकॉर्ड बनाता है तो दूसरे खिलाड़ी उस रिकॉर्ड को तोड़ना पसंद करते है. पर कुछ रिकॉर्ड ऐसे बने है जिन्हें तोड़ पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है.  ICC WTC Final 2021: ऑस्ट्रेलिया के इस दिग्गज खिलाड़ी का दावा, डब्ल्यूटीसी के फाइनल में इस वजह से न्यूजीलैंड को मिल सकता है फायदा

इन रिकॉर्ड पर एक नजर-

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के 100 इंटरनेशनल शतक

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को दुनिया के सबसे महान बल्लेबाजों में से एक माना जाता है. सचिन तेंदुलकर के नाम 100 अंतरराष्ट्रीय शतक हैं. उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ना भी बेहद मुश्किल नजर आता है. लेकिन यदि कोई ऐसा करता भी है तो वह सचिन के बाद ऐसा करने वाला दूसरा खिलाड़ी होगा. लेकिन सचिन पहले ऐसे खिलाड़ी हैं जो 100 अंतरराष्ट्रीय शतक तक पहुंचे हैं. ऐसे में उनका ये रिकॉर्ड कोई नहीं तोड़ पाएगा. वह हमेशा ऐसा करने वाले पहले खिलाड़ी बने रहेंगे.

सर डॉन ब्रैडमैन का 99.94 का औसत

ऑस्ट्रेलिया के सर डॉन ब्रैडमैन दुनिया के सबसे शानदार बल्लेबाजों में से एक थे. उन्हें हमेशा उनके शानदार बल्लेबाजी औसत के लिए याद किया जाएगा, जो 52 टेस्ट में 99.94 है. उनके इस औसत के करीब आना भी बल्लेबाजों के लिए बेहद मुश्किल दिखता है. इस रिकॉर्ड को भी तोड़ पाना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है.

सबसे लंबा टेस्ट मैच

बता दें कि यह सबसे अनोखे क्रिकेट रिकॉर्ड्स में से एक है. जिसे अब दोहराया मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है. यह मैच साल 1939 में डरबन में दक्षिण अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच हुआ था. 3 मार्च से शुरू होकर 14 मार्च तक चलने वाला यह सबसे लंबा टेस्ट मैच है.

सबसे लंबा ओवर

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद सामी ने बांग्लादेश के खिलाफ एकदिवसीय मैच में 17 गेंदों का सबसे लंबा ओवर किया. उन्होंने सात वाइड और 4 नो बॉल फेंकी और उसमें 22 रन दिए. इस रिकॉर्ड को भी कोई नहीं तोड़ना चाहेगा.

विल्फ्रेड रोड्स ने 52 साल की उम्र में लिया संन्यास

ये अनोखा रिकॉर्ड विल्फ्रेड रोड्स ने नाम दर्ज है. वह आज तक टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी हैं. उन्होंने अपना आखिरी टेस्ट 52 साल की उम्र में खेला था. किसी के लिए भी अपनी फिटनेस को 52 साल तक बनाए रखना बहुत कठिन होगा.

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *