Connect with us

Lifestyle

 लौकी के जूस का सेवन करने से पहले इस बात का रखें ध्यान

Published

on

 लौकी के जूस का सेवन करने से पहले इस बात का रखें ध्यान


राइटर (Writer) और फिल्म मेकर (Filmmaker) ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) को लौकी का जूस पीने (Lauki juice) की वजह से दो दिन तक आईसीयू (ICU) में भर्ती रहना पड़ा। फिलहाल, वह ठीक हैं और इसकी जानकारी उन्होंने खुद इंस्टाग्राम रील में दी है। फिल्म मेकर (Film Maker) ने कहा कि लौकी, आंवला और हल्दी का स्वाद कड़वा होने के बाद उन्हें लौकी (Gourd) की टॉक्सिसिटी (Toxicity) का सामना करना पड़ा। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती होना पड़ा।

फिल्म मेकर (Filmmaker) ताहिरा कश्यप (Tahira Kashyap) ने अपनी इंस्टाग्राम अकाउंट पर वीडियो शेयर कर लोगों को बताया है कि अगर आपको लौकी का जूस का सेवन करते हैं और उसका स्वाद कड़वा होता है तो उसे न पीएं। अगर आप कड़वे लौकी के जूस का सेवन करते हैं तो यह आपके लिए नुकसानदायक होता है।

Advertisement

पोषक तत्वों का एक पावरहाउस माना जाता है लौकी

भारत में लौकी (Bottle gourd) को घिया या दूधी के नाम से भी जाना जाता है। इसे पोषक तत्वों का एक ‘पावरहाउस’ माना जाता है। घिया के जूस से डायबिटीज (Diabetes), हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) और लीवर से जुड़ी (Liver Disease) बीमारियों को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसके साथ लौकी के जूस (Lauki Juice) का नियमित रूप से सेवन करने से कोलेस्ट्रॉल और वजन भी घट जाता है। हालांकि, पिछले कुछ वर्षों में लौकी के जूस के सेवन से टॉक्सिसिटी (Toxicity) की खबरें आई हैं, जिससे गंभीर उल्टी और ऊपरी जठरांत्र (Upper Gastrointestinal) में ब्लीडिंग होती है।

ऐसे पता करें लौकी खाने के लायक है या नहीं?

लौकी में टेट्रासाइक्लिक ट्राइटरपेनॉयड जैसे यौगिक होते हैं, जिन्हें कुकुर्बिटासिन कहा जाता है। जो प्रकृति में जहरीले होते हैं। इसलिए लौकी को पकाने या सेवन करने से पहले स्वाद लेने की सलाह दी जाती है।

Advertisement





Check Also


Advertisement

 लौकी के जूस का सेवन करने से पहले इस बात का रखें ध्यान

आज विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया जा रहा है। इस दिन की खास अहमि‍यत है। …

Advertisement
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *