Connect with us

Lifestyle

Health Tips: आम के आम पत्तियों के भी दाम! जानें आम की पत्तियों में किन-किन रोगों के इलाज छिपे हैं!

Published

on

Health Tips: आम के आम पत्तियों के भी दाम! जानें आम की पत्तियों में किन-किन रोगों के इलाज छिपे हैं!

आम की पत्तिया ( photo credit : pixabay )

Health Tips: फलों का राजा आम (Mango) स्वादिष्ट ही नहीं, बल्कि तमाम गुणों से भरपूर भी होता है. लेकिन कम लोगों को पता होगा पूजा पाठ के अलावा भी आम की पत्तियों में सेहत का राज छिपा होता है. यह औषधीय गुणों से भरपूर होती है. इन पत्तियों में विटामिन A, विटामिन B और विटामिन C प्रचुर मात्रा में होता है. ये विभिन्न पोषक तत्वों से समृद्ध होने के साथ ही इनमें शक्तिशाली एंटी ऑक्सीडेंट गुण भी निहित होते हैं, क्योंकि ये फ्लेवोनोइड्स (Flavonoids) और फिनोल की उच्च क्षमता से भरपूर होते हैं, जो पत्तियों को प्रतिउपचायक गुण प्रदान करते हैं. आइये जानते हैं सेहत के दृष्टिकोण से आम की पत्तियों (Mango leaves) में किन-किन रोगों का इलाज छिपा होता है.

* डायबिटीज को कंट्रोल करता है

आम की नरम-मुलायम पत्तियों में टैनिन और एंथोसायनिन जैसे तत्व होते हैं, जो मधुमेह के प्रारंभिक स्टेज पर बहुत प्रभावकारी साबित हो सकते हैं. आयुर्वेदिक चिकित्सकों का मानना है कि आम की पत्तियां डायबिटिक एंजियोपैथी और डायबिटिक रेटिनोपैथी के इलाज में लाभकारी साबित हो सकती है. इन पत्तियों में टैराक्सेरोल 3-बीटा और एथिल एसीटेट अर्क नामक एक यौगिक होते हैं, जो ग्लाइकोजन के संश्लेषण को उत्तेजित करता है. मधुमेह के लक्षणों को कम करने के लिए, इन पत्तियों को रात भर पानी में भिगोने के बाद सुबह पानी में ही मसलकर पानी को पी लें. इनका पाउडर बनाकर जल के साथ भी लिया जा सकता है.

* ब्लड प्रेशर और हाइपरटेंशन के लिए गुणकारी

आम की पत्तियों में हाइपोटेंशन गुण होते हैं, जो लो ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए लाभदायक हो सकते हैं. ये रक्त वाहिकाओं को मजबूत करने और वैरिकाज़ नसों की समस्याओं से निजात दिलाने का कार्य करते हैं. यद्यपि आम की पत्तियों से बनी चाय हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए भी गुणकारी हो सकती हैं, क्योंकि ये नाजुक रक्त वाहिकाओं को मजबूत बनाती हैं.

* पित्त और किडनी की पथरी को नष्ट करता है

आम की पत्तियां पित्त और गुर्दे की पथरी को नष्ट करती हैं. आम की नरम पत्तियों को छांव में सुखाकर मिक्सी में पीसकर पाउडर बना लें. एक चम्मच पाउडर को पानी में रात भर के लिए भिगोने को रख दें. प्रातःकाल पानी को छानकर पीएं. कुछ दिनों तक नियमित रूप से इसका सेवन करने से किडनी की पथरी गल जायेगी. यह भी पढ़ें : Mango Season: अब पूरे साल लीजिए आम का स्वाद, किसान ने आम की नई किस्म की ईजाद

* श्वसन संबंधी समस्याएं

सांस संबंधी सभी समस्याओं के लिए आम की पत्तियां रामबाण साबित हो सकती हैं. स्वच्छ पानी में आम की पत्तियों और शहद को उबालकर काढा बनाएं. खांसी, ठंड, ब्रोंकाइटिस एवं अस्थमा के मरीजों के लिए यह काढ़ा बहुत लाभकारी साबित हो सकता है.

* खूनी पेचिश का इलाज

आम की मुलायम पत्तियां खूनी पेचिश के लिए भी कारगर हो सकता है. इसकी नरम-मुलायम पत्तियों को दो दिन छांव में सुखाकर पीस ले. इसका एक चम्मच पाउडर पानी के साथ मिलाकर पीने से पेचिश रुक जाती है. इसे दिन में दो से तीन बार सेवन करें.

* कान दर्द से छुटकारा

अमूमन कान में जमे मोम, कान में पानी या अन्य संक्रमण के कारण कान में असहनीय दर्द उठता है. ऐसी स्थिति में आम की पत्तियां कान-दर्द का निवारक बन सकती हैं. आम की ताजी पत्तियां पीसकर इसका रस निकाल लें. इसे गुनगुना गरम करके ठंडा कर लें. अब इसकी कुछ बूंदे कान में डालकर कुछ समय तक दूसरी करवट लेट जायें. दर्द से छुटकारा मिलेगा.

* जलने के घाव को भरता है

रसोईघर में काम करते हुए गरम तेल अथवा गरम पानी का एक भी बूंद शरीर के किसी हिस्से पर पड़ जाये तो असहनीय दर्द होता है, जलनेवाली जगह पर घाव भी बन जाता है. इससे निजात पाने के लिए आम की कुछ पत्तियां जलाकर राख बना लें. इस राख को जलने वाली जगह पर लगाएं, दर्द कम होने के साथ घाव भी जल्दी भरता है.

* हिचकी को ठीक करता है

कुछ तीखा खा लेने से अथवा किन्हीं भी वजहों से हिचकी शुरु हो जाती है, जिसकी वजह से एकाग्रता प्रभावित होती है. अमूमन इसकी कोई औषधि नहीं होती है. लेकिन अगर हिचकी के समय आम की पत्तियों को जलाकर उसका धुआं सांस के साथ भीतर लें तो हिचकी से राहत मिलती है, इससे गले के छोटे-मोटे संक्रमण भी ठीक हो जाते हैं. लेकिन धुआं भीतर लेते वक्त सावधानी बरतें कि बहुत ज्यादा मात्रा में धुआं अंदर न लें.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *