Connect with us

Lifestyle

रोग से लड़ने की शक्ति को कम करता है अश्वगंधा

Published

on

रोग से लड़ने की शक्ति को कम करता है अश्वगंधा

आयुर्वेद में अश्वगंधा को कई बीमारी का इलाज करने वाली ओषधि बताई जाती है। यह त्वचा सम्बन्धी बीमारियों, थायराइड, शरीर का पतलापन और पेट सम्बन्धित सभी समस्याओ को जड सहित खत्म करता है। जितने इसके फायदे है उतने ही इससे होने वाली हानिया भी है जो सेहत पर बुरा असर डालती है। इसके अधिक उपयोग करने से यह हमारे शरीर पर हानिकारक प्रभाव भी डाल सकते है। आज हम आपको इससे होने वाली हानियों के बारे में बताएँगे जिसके बारे में आपको जानना जरूरी है क्योकि जो लोग इसका सेवन करते है है उन लोगो को इससे होने वाली परेशानी के बारे पता होना जरूरी है, तो आइये जानते है इस बारे में….

# पेट संबंधी रोग

जरूरत से अधिक अश्वगंधा का सेवन करने से आप कई तरह की पेट से सम्बंधित बीमारियों से परेशान हो सकते हो, क्योंकि इससे पेट में दर्द, उल्टी होना और पेट में गैस होना आदि की समस्या हो सकती है। इसलिए अधिक अश्वगंधा ना खाएं।

# नींद का अधिक आना

Advertisement

यदि आप अश्वगंधा का सेवन अधिक करते हो तो इससे आपको अधिक नींद आने की समस्या हो सकती है। अधिक सोना सीधा सेहत को नुकसान दे सकता है।

 

6 side effects of eating ashvgandha,healthy benefits in hindi,ashvgandha ayurvedic medicine

# शरीर पर किसी दवा का असर न होना

जो लोग काफी लंबे समय से अश्वगंधा का इस्तेमाल कर रहें हैं उन्हें किसी भी प्रकार की कोई अन्य दवा नहीं लगती है। बीमार होने पर अश्वगंधा शरीर में किसी भी दवा के असर को बेअसर कर देता है जिससे यह एक गंभीर समस्या बन जाती है।

# शरीर में बेचैनी बढ़ना

Advertisement

कई बार लोग अश्वगंधा का इस्तेमाल अपनी ताकत बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक करने लगते हैं। लेकिन अश्वगंधा का ज्यादा सेवन करने से शरीर में घबराहट और बेचैनी होने लगती है। जिससे शरीर में बेवजह पसीना निकलने लगता है।

# शरीर का कमजोर होना

अश्वगंधा अधिक खाने से शरीर धीरे धीरे कमजोर होने लगता है, और फिर बाद में इंसान का शरीर कई तरह की बीमारियों से ग्रसित हो जाता है।

# शरीर का बीमारियों से लाधने की क्षमता कम कर देना

अश्वगंधा का नियमित और अधिक सेवन करना शरीर के लिए परेशानी बन सकता है। इसका अधिक सेवन करना शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को कम कर देता है।

Advertisement

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *