Connect with us

Lifestyle

Lala Ramswaroop Calendar 2021 for Free PDF Download: लाला रामस्वरूप रामनारायण पंचांग के अनुसार यहां देखें नए साल के व्रत, त्योहार और छुट्टियों की पूरी लिस्ट

Published

on

Lala Ramswaroop Calendar 2021 for Free PDF Download: लाला रामस्वरूप रामनारायण पंचांग के अनुसार यहां देखें नए साल के व्रत, त्योहार और छुट्टियों की पूरी लिस्ट

लाला रामस्वरूप रामनारायण पंचांग 2021(File Image)

Lala Ramswaroop Ramnarayan Panchang or Calendar 2021 For Free PDF Download Online: ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार, 1 जनवरी नए साल का पहला दिन होता है और यह दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला कैलेंडर है. हालांकि हिंदू कैलेंडर या पंचांग (जिसे पंचांगम भी कहा जाता है) का इस्तेमाल पारंपरिक रूप से भारतीय उपमहाद्वीप में सामाजिक और हिंदू धार्मिक अवसरों के लिए किया जाता है. लाला रामस्वरूप रामनारायण पंचांग (Lala Ramswaroop Ramnarayan Panchang) या लाला रामस्वरूप कैलेंडर (Lala Ramswaroop Calendar) एक लोकप्रिय हिंदू पंचांग है, जो हिंदुओं में खासा प्रचलित है. यही वजह है कि नए साल यानी 2021 के आगमन से पहले विक्रम संवत 2077 लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2021 के फ्री पीडीएफ को डाउनलोड (Free PDF Download) करने के लिए लोग ऑनलाइन सर्च करने में लग गए हैं. आखिर इस पंचांग की ऑनलाइन खोज हो भी क्यों न? आखिर इस पंचांग में प्रमुख त्योहारों की तिथियों के साथ शुभ मुहूर्त भी दिया जाता है. यहां हम आपके लिए लाला रामस्वरूप रामनारायण कैलेंडर 2021 के पीडीएफ को फ्री डाउनलोड के लिए लेकर आए हैं. इसमें त्योहरों के विवरण के अलावा हिंदू व्रत, राशिफल, बैंक हॉलिडे, विशेष मुहूर्त, नक्षत्र और भी कई जानकारियां शामिल हैं.

लाला रामस्वरूप पंचांग इतना लोकप्रिय है कि यह आम लोगों के लिए जटिल भारतीय वैदिक ज्योतिष को समझना आसान बनाता है. लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2021 हमें शादियों के साथ-साथ नए व्यवसाय स्थापित करने के लिए चंद्र स्थिति, मुद्रा मुद्रा स्थिति, ग्रह स्थिति, राशिफल, शुभ मुहूर्त प्रदान करता है. ये प्रमुख त्योहारों के अलावा, शुभ मुहूर्त और व्रत पारण समय की जानकारी भी देता है. यह भी पढ़ें: Sankashti Chaturthi Vrat In Year 2021: भगवान गणेश को अतिप्रिय संकष्टी चतुर्थी, देखें साल 2021 में पड़ने वाले इस व्रत की तिथियों की पूरी लिस्ट

यह महत्वपूर्ण है कि लोग हिंदू कैलेंडर के अनुसार या विक्रम संवत के अनुसार महीनों या मास के नाम जानते हैं. ये नाम संस्कृत और नेपाली में हैं. हिंदू चंद्र कैलेंडर का पहला महीना वैसाख या बैसाख है, जो ग्रेगोरियन कैलेंडर में अप्रैल या मई महीने में आता है. यह साल का वह खास समय है जब विभिन्न क्षेत्रों के हिंदू नववर्ष मनाते हैं. भारत में विभिन्न समुदा. के लोग अलग-अलग दिन नववर्ष का जश्न मनाते हैं. नवरेह को कश्मीरी नववर्ष, गुड़ी पाड़वा को महाराष्ट्र का नववर्ष, उगादी/चैत्र सुखलांडी को तेलुगु न्यू ईयर, चेटी चंड या झूलेलाल जयंती को सिंधी नव वर्ष, वैसाखी को पंजाबी या सिख नववर्ष, पुथंडु को तमिल नववर्ष, विशु को मलयालम नववर्ष, जुरसितल को मैथिली नववर्ष, बोहाग बिगू या रोंगाली बिहू को असमिया नववर्ष और पोहेला बोइशाख को बंगाली नववर्ष कहा जाता है.

हिंदू कैलेंडर में वैशाख या बैसाख के बाद आने वाले अन्य महीने हैं- ज्येष्ठ (मई-जून), आषाढ़ (जून-जुलाई), श्रावण या सावन (जुलाई-अगस्त), भाद्रपद या भादो (अगस्त-सितंबर), आश्विन (सितंबर-अक्टूबर), कार्तिक (अक्टूबर-नवंबर), अगहन या मार्गशीर्ष (नवंबर-दिसंबर), पौष (दिसंबर-जनवरी), माघ (जनवरी-फरवरी), फाल्गुन या फागुन (फरवरी-मार्च) और चैत्र (मार्च-अप्रैल). यह भी पढ़ें: Pradosh Vrat In Year 2021: साल 2021 में कब-कब पड़ रहे हैं प्रदोष व्रत, जानें त्रयोदशी तिथियों की पूरी लिस्ट

साल के इन महीनों में मनाए जाने वाले कुछ सबसे बड़े हिंदू त्योहार हैं- दिवाली, होली, दुर्गा पूजा, दशहरा, कृष्ण जन्माष्टमी, गणेश चतुर्थी, राम नवमी, हनुमान जयंती, सरस्वती पूजा इत्यादि. नए साल में दिवाली 4 नवंबर 2021 (गुरुवार) को पड़ेगी. होली 29 मार्च 2021 (सोमवार) को होगी. दुर्गा पूजा 11 अक्टूबर 2021 (सोमवार) को शुरू होगी और 15 अक्टूबर 2021 (शुक्रवार) को समाप्त होगी. विजयदशमी या दशहरा 15 अक्टूबर 2021 को होगा. राम नवमी 21 अप्रैल 2021 (बुधवार) को मनाई जाएगी. कृष्ण जन्माष्टमी 30 अगस्त 2021(सोमवार) को पड़ेगी, जबकि गणेश चतुर्थी 10 सितंबर 2021 (शुक्रवार) को होगी.

इन बड़े त्योहारों के अलावा मासिक त्योहार भी हिंदू धर्म में मनाए जाते हैं. प्रत्येक मास के शुक्ल पक्ष और कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि को एकादशी का व्रत किया जाता है, जबकि त्रयोदशी तिथि को प्रदोष व्रत का पालन किया जाता है और इस व्रत में भगवान शिव-माता पार्वती की पूजा की जाती है. इसके अलावा हर मास की पूर्णिमा और अमावस्या तिथि का भी विशेष महत्व बताया जाता है. यह भी पढ़ें: Ekadashi Vrat In Year 2021: साल 2021 में कब-कब पड़ रहे हैं एकादशी व्रत, जानें भगवान विष्णु की सबसे प्रिय तिथियों की पूरी लिस्ट

संकष्टी चतुर्थी भगवान गणेश के भक्तों द्वारा मासिक रूप से मनाया जाने वाला एक और शुभ व्रत है. संकष्टी चतुर्थी का व्रत हर माह पूर्णिमा के बाद आनेवाली चतुर्थी तिथि को किया जाता है. यदि यह चतुर्थी मंगलवार को पड़ती है, तो इसे अंगारकी संकष्टी चतुर्थी कहा जाता है. हर मास मनाई जाने वाली शिवरात्रि भगवान शिव को समर्पित है, जबकि देवी दुर्गा को समर्पित मासिक दुर्गा अष्टमी, हर महीने शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है.

लाला रामस्वरूप रामनारायण पंचांग आपको त्योहारों से जुड़ी सभी जानकारी, शुभ मुहूर्त इत्यादि की जानकारी प्रदान करता है. आप इस पंचांग का पीडीएफ फ्री में डाउनलोड कर सकते हैं. हिंदू त्योहारों के अलावा इस पंचांग के जरिए आप अन्य बड़े धार्मिक त्योहारों जैसे ईद अल-फितर या बड़ी ईद, गुरु नानक जयंती, क्रिसमस, पारसी नववर्ष, क्रिसमस इत्यादि के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. हम अपने सभी पाठकों को नव वर्ष 2021 की हार्दिक शुभकामनाएं देते हैं.

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *