Connect with us

Lifestyle

ये सेलेब्स भी हो चुके हैं depression का शिकार, एक्सपर्ट्स से जानिए आखिर क्यों ग्लैमर वर्ल्ड पर हावी है डिप्रेशन?

Published

on

World Mental Health Day 2021: आज की भागदौड़ भरी जिंदगी में डिप्रेशन एक आम समस्या बन चुकी है. आम से लेकर खास हर कोई कभी ना कभी इस समस्या से गुजर चुका है. यहां तक की लाइमलाइट और ग्लैमर की दुनिया भी इससे अछूती नहीं है. अक्सर लोगों को लगता है कि फिल्म और टीवी इंडस्ट्री के सितारे एक आरामदायक और सुकून की जिंदगी बिताते होंगे, लेकिन सच इसके बिल्कुल विपरीत है. बॉलीवुड में कई ऐसी अभिनेत्रियां हैं, जो डिप्रेशन का शिकार हो चुकी हैं.

ये अभिनेत्रियां हो चुकी हैं डिप्रेशन का शिकार (These actresses suffered from depression)

 

1. दीपिका पादुकोण 
बाजीराव मस्तानी, पद्मावत  जैसी कई सुपरहिट फिल्मों से अपनी दमदार अदायगी का लोहा मनवाने वाली खूबसूरत अदाकारा दीपिका पादुकोण भी डिप्रेशन जैसी मानसिक स्वास्थ समस्या का सामना कर चुकी हैं. रणबीर कपूर से ब्रेकअप के बाद वह डिप्रेशन में थीं. अब वे लोगों को इस बारे में जागरूक करती हैं. उनका कहना है कि मानसिक बीमारी या अवसाद के समय अपनी समस्या दूसरों से साझा करनी चाहिए, ऐसे समय में बात करें, संवाद करें और जाहिर करें.

Advertisement

2. कटरीना कैफ 
बॉलीवुड एक्ट्रेस कैटरीना कैफ 2016 में रणबीर कपूर के साथ अपने ब्रेकअप के बाद डिप्रेशन में चली गई थीं और स्लीपोहॉलिक का शिकार भी हो गई थीं. ब्रेकअप के बाद कैटरीना रोज 13-13 घंटे की नींद लिया करती थीं. उन्होंने एक इंटरव्यू में बताया था कि मैंने डिप्रेशन से बाहर आने के लिए किताबों को अपना साथी बना लिया. अच्छी किताबें पढ़कर डिप्रेशन से बाहर आने की कोशिश करती थी.

3. प्रियंका चोपड़ा
प्रियंका चोपड़ा भले ही आज एक ग्लोबल स्टार हैं, लेकिन एक वक्त था जब वह डिप्रेशन से जूझ रही थीं. पिता के निधन के बाद वह डिप्रेशन में चली गयी थी और वह करीब पांच साल तक इससे पीड़ित रहीं. डिप्रेशन से बाहर निकलने का श्रेय उन्होंने अपने काम को दिया है. उन्होंने लिखा था कि मैं हमेशा कहती हूं काम मेरी थेरेपी है. मैं अपने सभी दुख और आत्मा को चरित्र एवं फिल्म में लगा देती हूं.

 

4. अनुष्का शर्मा 
बॉलीवुड की सबसे सफल अभिनेत्रियों की फेहरिस्त में शुमार अनुष्का शर्मा भी डिप्रेशन के दौर से गुजर चुकी हैं? उन्होंने एक ट्विट किया था, कि वो एंजायटी डिसऑर्डर जैसी मानसिक स्वास्थ्य समस्या से गुजर रही हैं और उनका इलाज चल रहा है. उन्होंने कहा कि जब आपके पेट में दर्द होता है तो क्या आप डॉक्टर के पास नहीं जाते, तो फिर मेंटल हेल्थ से जुड़े मुद्दों पर ख़ुलकर बात करने में शर्म कैसी?

5. आमिर खान की बेटी इरा खान
बॉलीवुड के मिस्टर परफैक्शनिस्ट की बेटी इरा खान भी डिप्रेशन का शिकार हो चुकी हैं. बीते साल अक्टूबर (October 2020) में इरा खान ने कहा था, ‘मैं डिप्रेस्ड हूं. मैं करीब चार सालों से डिप्रेशन में हूं. मैं डॉक्टर के पास गई थी. मैं क्लिनिकली डिप्रेस्ड हूं. आपको बता दें कि क्लिनिकल डिप्रेशन मानसिक बीमारी का एक गंभीर रूप है, जो सिर्फ एक व्यक्ति को खराब मूड से अधिक गंभीरता से प्रभावित करता है.

Advertisement

क्या कहते हैं मनोचिकित्सक ? 
बॉलीवुड इंडस्ट्री और डिप्रेशन का पुराना नाता है, चकाचौंध भरी दुनिया अक्सर चेहरे के पीछे छिपे दर्द और तनाव को छुपा देती है. आखिर क्यों ग्लैमर वर्ल्ड पर डिप्रेशन हावी है इसे लेकर हमने जाने माने मनोचिकित्सक डॉक्टर विकास खन्ना से खास बातचीत की है. वो कहते हैं कि डिप्रेशन हर उम्र, हर वर्ग के लोगों को हो सकता है. सवाल-जवाब के जरिए समझिए पूरी बात….

सवाल- आखिर क्यों ग्लैमर वर्ल्ड पर हावी है डिप्रेशन ?

जवाब- सेलेब्स में डिप्रेशन अकसर इसलिए भी होता है कि जब वो बहुत कामयाबी पा लेते हैं तो जेहन में एक सवाल आता है कि अब क्या? आगे क्या? इस दौरान उन्हें खालीपन सा महसूसन होने लगता है. धन-दौलत सबकुछ कमा लिया अब आगे क्या? किसी चीज को पा लेने के बाद अंदर से आने वाले खालीपन के ख्याल धीरे-धीरे डिप्रेशन की ओर ले जाते हैं. एक स्टडी के अनुसार, संपन्न सोसायटी में तनाव को ज्यादा देखा है. यह बात ग्लैमर वर्ल्ड पर भी लागू होती है. इसके पीछे के दो कारण हैं. पहला है, कॉम्पिटिशन और उम्मीद. दूसरा कारण ये है कि आप खुशियों को पकड़कर नहीं रह सकते है. जब आप किसी शिखर पर पहुंच जाते हैं तो वापस आना मुश्किल होता है. जब जीवन में उतार-चढ़ाव आने लगते हैं तो डिप्रेशन बढ़ने लगता है.

सवाल- ब्रेकअप के दौरान इंसान की मनोदशा कैसी हो जाती है?
जवाब- आप किसी भी रिश्ते में आप जितना निवेश कर रहे होते हैं, जब रिश्ता टूट जाता है तो उतनी है हताशा बढ़ती है.
आपके जो इमोशनल सर्किट्स है, वो अगर सेंसिटिव हैं तो आपको एक ऐसा आभाष होने लगता है कि जैसे आपके सामने से एक साथी हमेशा के लिए चला गया. इस दौरान आगे का कुछ नहीं दिखता. कुछ वक्त के लिए आप न उम्मीद हो जाते हैं. ब्रेकअप होने के बाद ऐसा लगता है कि आप दूसरे रिलेशन में आप कभी नहीं आ पाएंगे. मन आने वाले यही ख्याल लोगों को डिप्रेशन का शिकार बना देते हैं.

सवाल- महिलाओं को क्यों मानसिक बीमारी का खतरा ज्यादा होता है? 
जवाब- यूएस की एक स्टडी बताती है कि औरतें में दोगुना ज्यादा डिप्रेशन होने के चांस होते हैं. इसके पीछे का ये कारण है कि वह ज्यादा इमोशनल होती हैं. उनमें डिप्रेशन का सबसे बड़ा कारण रिश्ते बनते हैं, क्योंकि महिलाओं का अंतहकरण पुरुषों की अपेक्षा ज्यादा होता है. कई मामलों में ये भी देखा गया है कि जैसे ही हॉर्मोनल बिगड़ते हैं महिलाएं डिप्रेशन की शिकार हो जाती हैं.

Advertisement

सवाल- डिप्रेशन से बाहर आने के लिए क्या करें?
जवाब- सबसे बड़ी बात ये है कि अगर आपको खुशी की परिभाषा नहीं पता तो आप नाखुश नहीं हो सकते. आप खुशी के पीछे कितनी जद्दोजहद कर रहे हैं ये आपकी निराशा का कारण बनता है. जब आप डिप्रेशन में है तो आपको कई चीजें पहचाननी हैं, कि वो कौन सी चीज है, जिसकी वजह से आप डिप्रेशन में चले जाते हैं. डिप्रेशन से बाहर आने में फिजिकल एक्टिविटी बहुत जरूरी है. मेडिटेशन करने से भी डिप्रेशन से बाहर आने में मदद मिलती है. खुशी के लिए सिर्फ किसी एक चीज पर डिपेंड न हों, जिंदगी में कई ऐसी चीजें होनी चाहिए, जो आपको खुशी दें.

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *